NEWS

UPS Kya Hai ?- UPS Full Form in Hindi और इसकी पूरी जानकारी।

दोस्तों आपलोगो को अंदाजा है, की UPS Full Form क्या होता है। और UPS क्या होता है इसकी पूरी जानकारी क्या है, क्योकि बहुत से लोग इसका इस्तेमाल करते है, लेकिन इसे जानते नहीं है, UPS के बारे में थोड़ा बहुत वो जानते होंगे जिनके पास कंप्यूटर है, इसकी पूरी जानकारी तो मालूम नहीं होगा, लेकिन उसका इस्तेमाल जरूर करते होंगे।

UPS के बारे में जानने के लिए आपको इस पोस्ट को पूरा पढ़ना होगा, क्योकि आप जब इसे थोड़ा पढ़ेंगे तो आपको उतना ही समझ आएगा जितना आप पढ़े है, लेकिन इस पोस्ट में आपको UPS की पूरी जानकारिया देखने को मिलेंगे तथा पहहले तो इसके बारे में बुक में नहीं आती थी,

लेकिन अब बुक में भी यूपीएस के बारे में आना चालू हो गया है।अब UPS कम्प्यूटर का एक हिस्सा बन गया है तो इसके बारे में भी जानना जरुरी होता है, कम्प्यूटर के ही ज्यादा UPS के बारे में जानने को मिलता है, यूपीएस के बिना कम्प्यूटर को चलना थोड़ा रिस्की होता है, इसीलिए यूपीएस को कम्प्यूटर का एक अहम् हिस्सा मन जाने लगा है।

UPS Full Form Kya Hai?

यूपीएस के फुल फॉर्म को बहुत नाम से जानते है, जैसे UPS Full Form Kya Hai? या UPS का फुल फॉर्म क्या है, और UPS FULL FORM क्या होता है, तो इन सभी का एक ही जवाब है, अगर हिंदी में इसका फुल फॉर्म जानना है तो इसका पूरा नाम अबाधित विद्युत आपूर्ति है, और इसे इंग्लिश में यानि UPS Full Form Uninterruptible Power Supply होता है,

UPS का अब घरो के लिए भी ज्यादा उपयोग में लाया जा रहा है, लेकिन इससे पहले सिर्फ COMPUTER के लिए ही इसका इस्तेमाल ज्यादा होता था, UPS के बिना बहुत ही जयादा परेशानियों का सामना करना परता था लेकिन अब लैपटॉप के वजह से इसका ज्यादा इस्तेमाल नहीं होता है, लेकिन जो कम्प्यूटर उपयोग कर रहे है उनके लिए अभी भी UPS की जरुरत होता है।

इसे भी पढ़े:-

UPS Kya Hai? Or इस्तेमाल कैसे होता है?

जैसा की आपने जाना है की इसका इस्तेमाल कम्प्यूटर में होता है, लेकिन मैं पहले आपको बता देता हु की UPS आखिर है क्या? तो मैं आपको बता दू यह एक करंट देने वाला इलेक्ट्रॉनिक मशीन है, और UPS की जरूर सबसे ज्यादा तब होती है जब आप कोई इम्पोर्टेन्ट काम कर रहे है, क्योकि अगर आप ऐसेही कम्प्यूटर को चला रहे है तो अचानक लाइट कटने के बाद कम्प्यूटर बंद हो जाए तो कोई समस्या नहीं होती है,

लेकिन अगर आप कोई महत्वपूर्ण काम कम्प्यूटर में कर रहे है, तथा अगर आपके पास UPS नहीं है तो जैसे ही लाइट कट जाएगी वैसे ही, आपका कम्प्यूटर बंद हो जाएगा और आप जो काम कर रहे थे वो समाप्त हो जाएगा, तो इसी वजह से कम्प्यूटर में UPS जो इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है, उसे उपयोग कियता जाता है, और जब आप UPS को कम्प्यूटर से कनेक्ट करते है,

तो लाइट कटने के तुरंत बाद वो UPS से कनेक्ट हो जाती है, और कम्प्यूटर बंद नहीं होती है, पहले UPS थोड़े समय के लिए ही काम करती थी लेकिन अब आप बहुत समेत तक काम कर सकते है, बिना किसी समस्या के, अब तो बहुत तरह के UPS आ गए है, जिसके वजह से अब कम्प्यूटर को बिजली के थोड़े देर कटने से कोई समस्या नहीं होती है, 8 से 10 घंटे आप UPS की सहायता से अपने काम को कर सकते है।

UPS की कुछ महत्वपूर्ण जानकारिया?

UPS Kya Hai ?- UPS Full Form और इसकी पूरी जानकारी।

वैसे तो UPS के बारे में बहुत सी बाते है जिनके बारे में, आपको जनन थोड़ा जरुरी है, UPS का कार्य डायरेक्ट करंट से अर्टरनेट करंट में परिवर्तन करना होता है, यानि DC (BATTERY) से AC में बदलना ही इसका मुख्य कार्य होता है,

और UPS के कुछ TYPES भी होते है, जिसका नाम मैं आगे बताने वाला हु, और इसके बात मैं इसके बारे में भी बताऊंगा, जिससे आपको UPS को समझने और इसकी जानकारी में आपको कोई समस्या नहीं होगी।

UPS के प्रकार

  • Stand UPS
  • Double Conversion UPS
  • Line Interactive UPS

Stand UPS:- इस तरह के UPS का इस्तेमाल अधिक्तर लोग कम्प्यूटर में ही करते है, जो नार्मल UPS माना जाता है तथा, जब बिजली कट जाती है तब इस UPS पर बिना कम्प्यूटर बंद हुए कन्वर्ट हो जाता है, और यह सस्ता भी होता है, जिसे मोस्टली कम्प्यूटर के लिए ही बनाया गया है।

Double Conversion UPS:- इस तरह के UPS का इस्तेमाल सभी जगहों पर किया जाता है, और जब नार्मल ऑपरेशन में Double Conversion UPS के मेन पावर को लगातार प्रोसेस करता है और लगभग दो बार करता है इस प्रॉसेस को, अगर इसमें भी लाइट कट जाती है, तो ये AC को कंटिन्यू रखता है, और इस UPS को किसी के लिए भी इस्तेमाल कर सकते है।

Line Interactive UPS:- इस तरह के यूपीएस ऑटोमेट होते है, इसमें आपको कन्वर्ट करने की जरुरत नहीं होती है, हालाँकि सब आटोमेटिक ही होता है, लेकिन यह इन्वर्टर को दो तरह से काम करता है, पहला जो मेन पॉवर होता है वो इस बैटरी को चार्ज कर देता है, तथा Voltage को भी रेगुलेट करता रहता है इसके साथ ही जब मेन पॉवर Off हो जाता है तो ये भी साधारण इन्वर्टर की तरह ही कार्य करता है।

UPS के फायदे क्या है?

वैसे अब बिजली ज्यादा कटती नहीं है, लेकिन जब काट जाए तो समस्या हो जाता है, बड़े बड़े शहरो के लिए अब इन्वर्टर का इस्तेमाल कम ही होता है, क्योकि वह बिजली लगभग 24 घंटे होते है, लेकिन अभी भी कुछ गावो में बिजली काटने की वजह से बहुत ही परेशानी होने लगती है,

तो वहाँ बिजली की समस्या बहुत ही ज्यादा होती है, तो उन सभी के लिए यूपीएस अभी भी बहुत उपयोगी होगी, बिजली चली जाने के बाद भी UPS की सहायता से वो कम्प्यूटर या बिजली की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

यह एक एमर्जेन्सी सेवा का भी स्रोत हो सकता है, इसे होटल या रेस्टुरेंट, HOSPITAL इत्यादि जगहों पर भी उपयोग किया जाता है, लेकिन अब ज्यादा इंजन मशीन का उपयोग करने लगे है, लेकिन डीजल की महंगाई के वजह से यूपीएस का इस्तेमाल जोरो से हो रहा है।

ज्यादा जानकारी के लिए HOME PAGE यहाँ पर क्लिक करे।

अंतिम शब्द:-

दोस्तों अगर आपको UPS Kya Hai ?- UPS Full Form और इसकी पूरी जानकारी। अच्छी लगी हो तो कमेंट में बताए, और इसके साथ ही आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों में भी शेयर करे जिससे उनको इसके बारे में जानकारिया मिल सके। अगर आपको ऐसेही जानकारिया चाहिए तो आप इस पोस्ट के होम पेज पर जाए आपको वहाँ ऐसी बहुत सी जानकारिया मिलेंगी। वैसे मैं ऊपर एक लिंक दे रहा हु, आप वहाँ क्लिक करके भी जा सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button