Shayari

Best 72 Suvichar Motivational in Hindi मोटिवेशनल सुविचार जो जिंदगी बदल दें। Achhi baten

इस पोस्ट के माध्यम से मैं आप सभी के लिए टॉप Best 72 Suvichar Motivational in Hindi लेकर आया हु, आप इसे पढ़ेंगे तो आप अपने में बदलाव भी ला सकते है, और अपने में परिवर्तन के वजह से आप दुसरो में भी परिवर्तन को ला सकते है,

हमलोग कभी न कभी गलत रह में चल परते है और भटकते रहते है कभी गलत संघत में भी पद जाते है जिससे हमारा दिमाग उसी गलतियों में चला जाता है, तथा आपको उसी के लिए अपने में बदलाव को लाना होगा,

क्योकि जब तक आप बदलाव नहीं लाओगे ता तक आप आगे भी नहीं बढ़ पाओगे, बहुत से लोग मोटिवेट होकर के अपना सही रास्ता हो पहचाना है, उसी तरह आप भी अपना एक सही रास्ता जरूर ढूंढ पाओगे।

मेरे इस पोस्ट को लिकने का एक ही पर्पस है की आपको इस मोटिवेशन सुविचार को पढ़ने से आप गलत और सही का भी अच्छे से पहचान कर सकते है, अगर आपको कुछ पूछना है तो कमेंट में जरूर पूछे,

और आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो कमेंट में जरूर बताइयेगा, जिससे मुझे भी मोटिवेशन आपके द्वारा मिलेगा और इसी जैसा मैं आपके लिए कुछ नया लेकर आऊंगा, फिलहाल हम सुरु करते है।

इस मोटिवेशन में, मैं अपने तरफ से कुछ बोलने जा रहा हु:-

तू चल मगर संभल कर , तू रुक मत , तू चलता जा और तब तक चल जब तक तुम्हारा मुकाम तुझे सलाम न करे।
और तब तक चलता जा जब तक तेरा मुकाम न मिले, तू गिरेगा, तुझे गिराया भी जाएगा, तुझे ठोकरे भी खाने पड़ेगी,

लेकिन तू कभी भी हार मत मान ये जिंदगी है मेरे दोस्तों तू एक बार कदम तो उठा तुझे राह/मुकाम न मिले तो फिर बता मुझे, तू घबरा मत तूने तो अभी शुरुआत ही की है अभी तो सारा जहाँ देखना बाकि है, और तब तक चलता जा जब तक तेरा मंजिल तुझे मिल न जाए।
और जब तक तेरा मंजिल तुझे सलाम न करे तब तक तू चलता जा।

Best 72 Suvichar Motivational in Hindi

सपने और लक्ष्य में एक ही अंतर है,
सपने के लिए बिना मेहनत के नींद चाहिए,
और लक्ष्य के लिए बिना नींद की मेहनत चाहिए।

एक बात तो आप जरूर सुने होंगे,
लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती,
और कोसिस करने वालो की कभी हार नहीं होती।

अपने अंदर से अहंकार को निकाल कर,
स्वयं को हल्का करे,
क्योकि ऊंचा वही उठता है जो हल्का होता है।

लोभ, क्रोध और निंदा,
इन तीनो से बचकर रहे,
तो ज्यादा ठीक रहता है।

ये जिंदगी हसीन है इसे प्यार करो,
अभी है रात तो सुबह का इंतज़ार करो,
वो पल भी आएगा जिसका इन्जार है आपको,
रब पर भरोसा रखो, वक्त आपका भी आएगा।

लोग तभी तक आपको याद करेंगे,
जब तक आपसे कोई काम न हो,
मनुष्य का यही सिद्धांत है।

जो मंजिलो को पाने की चाहत रखता है,
वो समुन्द्र पर भी पत्थरो का पुल बना सकता है।

हमेसा शांति से काम लेना चाहिए,
क्रोध अक्शर लोग को विनाश की ओर ले जाता है।

जब कोई आपके सामने गुस्से में बात करे,
तो शांति से उसकी बातो को सुनो,
क्योकि गुस्से में अक्शर लोग सच बोल जाते है।

क्या लेकर आए हो और क्या लेकर जाओगे,
दो पल की जिंदगी है मेरे दोस्तों,
सभी से प्यार करो, ईष्या और लोभ को भूल जाओ।

दो दिन की जिंदगी है, दो दिन जीना है,
आज हो या कल खुद को हमें खुदी संभालना होता है,
क्योकि कोई आपके साथ खरा नहीं होगा आपके,
दुखो को बाँटने के लिए।

इस तरह से किसी से खफा न होना ऐ गालिभ,
की वो आपसे हमेसा के लिए मुँह फेर ले।

मंजिलो के आगे बढ़कर मंजिल तलाश कर,
मिल जाए तुझको दरिया तो सम्नदर को पार कर।

बिना पैसे से तो जहर नहीं मिलती ,
और आप कर्रिएर ऐसेही कैसे बना लोगे,
जब तक मेहनत नहीं करोगे,
तब तक मिट्टी भी हाथ नहीं आएगी।

जन्नत का हर लम्हा मैंने दीदार किया था,
माँ जब तुमने जब गोद में उठाकर प्यार किया था।

जन्नत का रास्ता ऐसे ही नहीं मिलती है मेरे यारो,
कुछ अच्छे कर्म से ही वहाँ जाया जा सकता है।

कभी पत्थर की ठोकर से भी नहीं आती जरा सी खरोच,
और कभी जरा सी बात पर इंसान बिखर जाते है।

अगर मेरी आन की बात आयी,
तो हम जान भी दे सकते है,
और शान की बात आएगी,
तो हम जान भी ले सकते है।

शाखों से टूट जाए वो पत्ते नहीं है हम,
आँधियो से कह दो जरा अपनी औकात में रहे।

कर बुलंद अपनी आवाज को,
क्योकि गिराने वाले किसी भी हद तक जा सकते है।

रंगीन दुनिया के रंगीन लोगो में नाम न लिख मेरा,
तौबा कर लूंगा मरने से पहले न लिख अंजाम मेरा।

एक बार जो आप किसी रास्ते पर चल परे,
तो उसे पूरा किये बिना वापस नहीं आना है,
जो लिखा होगा तक़दीर में उसे हमें मिटाना है।

यहाँ बिकता है सबकुछ जरा संभलकर रहना,
लोग हवाओ को भी बेच देते है गुब्बारों में डालकर।

है उमंग तेरे अंदर उस बुलंदियों को छूने की,
तो किसी के माई के लाल में दम नहीं है,
उस बंदियों को छूने से रोकने की।

अपना जमाना हम खुद बनाते है ए अहले दिल,
हम वो नहीं जिसे जमाना बना जाए।

कभी भी उम्मीद पर मत रहना ऐ मेरे दोस्त,
उम्मीद अक्शर टूट जाया करते है,

बुरे लोगो को भूल कर अच्छे लोगो की,
तलाश से कही बेहतर है की हम लोगो,
की बुरी बाते भूल जाए और,
उनकी अच्छी बाते तलाश करे।

अक्शर आपको वही लोग गिराना चाहेंगे,
जो आपसे जलते है और आपको अपना करीब रखते है,

मंजिल से आगे बढ़कर मंजिलो की तलाश करो,
मिल जाए तुझको मुकाम तो आकाशो की तलाश करो।

पांडवो के जैसा बनोगे तो, भगवान भी सार्थी बनेगे तुम्हारे,
रावण के जैसा बनोगे तो भाई भी साथ न होगा तुम्हारे।

मंजिल मिलेगी तुझे, भटक कर ही सही,
गुमराह तो वो है जो कभी निकले ही नहीं।

मंजिल से पहले अगर टूट जाए आपकी साँस कही,
घबराना मत लोग इतने अच्छे है की आपने जहाँ से शुरुआत की थी,
वही पर ले जाएंगे, आपको।

मंजिल मिले या न मिले सफर की शुरुआत कर,
समंदर मिलेगा या तजुर्बा दोनों फायदा ही देगी।

तू किसी के कहने से रुक मत,
कहने वाले बहुत कुछ कह जाते है,
जब आप कुछ कर जाते है।

खुद को किसी की अमानत समझकर,
हर लम्हा वफादार रहना ही इश्क होता है।

कर जज्बातो के अपने अंदर जिन्दा,
मिलेगा तुझे ही मंजिल लेकिन शर्त है,
इतना पीछे मत देखना।

दुसरो के चेहरे हम याद रखे,
हमारी ऐसी फितरत नहीं,
लोग हमारा चेहरा देखकर,
अपनी फितरत बदल ले,
ऐसी हमारी फितरत है।

बस एक आंखरी गुजारिश,
मेरा नाम है तक़दीर ,
जो मेहनत करे उसी को मिले मंजिल,
और जो नहीं करे दुब जाते है वो एक दिन।

शायद ये चेहरा मेरा नहीं है,
लेकिन कुछ चेहरे देखकर,
मुझे मेरा चेहरा बदलने का मन करता है।

अगर आप उसे ढूंढ रहे है,
जो आपकी किस्मत बदल दे,
तो आप आइना एकबार जरूर देखे,
उसके शिवा कोई नहीं बदलेगा किस्मत आपकी।

जो किसी के फैन होते है,
उनका कभी भी,
कोई फैन नहीं होता है।

किसी का फैन मत बनो,
उससे सिर्फ सिख लो,
उसके बाद आपके खुद,
फैन होंगे।

1 2 3Next page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button