Shayari

Krishna Janmashtami ki Hardik Shubhkamnaye in Hindi – Janmashtami Shayari in Hindi

दोस्तों आज मैं जन्मास्टमी के शुभ अवशर पर भगवन श्री कृष्ण के बारे में कुछ बताना चाहता हु, और इसके बाद मैं आपको Krishna Janmashtami ki Hardik Shubhkamnaye in Hindi के बारे में आपको कुछ फोटो को बधाई देने के लिए डाल दूंगा, और आप यहाँ से इसे डाउनलोड बहुत आसानी से कर सकते है।

भगवन श्री कृष्ण को विष्णु का अवतार माना गया है, श्री कृष्ण ने सबसे पहले बहुत से राक्षसों को मरकर उसके बाद उन्होंने अपने मामा कंश को मारकर एक बार और बुराई पर अच्छाई की जीत को स्थापित किया था,

श्री कृष्ण बचपन से ही बहुत सरारती थे, और ये माखन खाना बहुत ही पसंद करते थे, इसके साथ ही, इनकी प्रेमिका भी थी जिनका नाम राधा था, लेकिन श्री कृष्ण की शादी राधा से न होकर के एक महारानी से हुई थी, जिनका नाम रुक्मणि था,

लेकिन कहा जाता है, की इनकी 1600 पत्नियाँ थी, और श्री कृष्ण के एक बारे प्रिय मित्र भी थे, जिनका नाम सुदामा था, जो उनके बचपन के मित्र थे, और महाभारत में आप श्री कृष्ण को देखे ही होंगे, श्री कृष्ण ने महाभारत में भी बहुत ही अच्छा और ज्ञानवर्धक बातो के साथ साथ, इन्होने पांडवो को युद्ध में जिताया भी है,

और श्री कृष्ण न होते तो, महाभारत में पांडवो का जितना बहुत ही मुश्किल हो जाता, यही नहीं ये जीतते भी नहीं, श्री कृष्ण ने ही अपनी लीला से पांडवो को जिताया है।

ऐसा इनका मुख है,
कोई भी लोभा जाए,
इस मोहिनी मुख की क्या बात है,
ये इसलिए है, क्योकि,
ये विष्णु के अवतार है।

माथे जिनके मोर पंख साजे,
हाथ में बासुरी साजे जिनके,
नीला इनका शरीर,
दिल इनका रंगीन है,
कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं।

Janmashtami Ki Sshubhkamnaye Shayari in Hindi

Krishna Janmashtami ki Hardik Shubhkamnaye in Hindi

पलकें झुकें और नाम मस्तक हो जाए,
आँखे झुके और वंदन हो जाए,
ऐसी आँखे कहां से लाये, मेरे कान्हा
की आपको याद करूं और आप आ जाओ।
कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं

कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं

माखन चुराकर खाये कन्हैया,
बंसी बजाकर सुनाये कैन्हैया,
अब हम सब मिलकर इनकी जन्म दिन की खुसिया मनाये,
श्री कृष्ण फिर से आए

कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं।

कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं

हरे कृष्णा, हरे मुरारी,
पूजा करे इनकी जगत सारी,
और जपते रहे राधे श्याम का नाम ,
क्योकि कृष्ण की जम्दीन आई

कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं।

कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं

कान्हा जिनका नाम है,
गोकुल जिनका धाम है,
करते ये भले काम है
इनकी जम्दीन आई

खुसियो का माहौल है,
कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं।

कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं

नन्द के घर आनन्द आयो,
जय कन्हैया लाल की,
जो नन्द के घर गोपाल आयो,
जय कन्हैया लाल की,
जय मुरली धर गोपाल की,
जय हो कन्हैया लाल की।।
कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं


जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं

कृष्ण की मुरली का मिठास,
राधा की भक्ति, मुरली की मिठास
माखन का स्वाद और गोपियों का रास,
आओ सब मिलके मानते हैं जन्माष्टमी का दिन बहुत ही ख़ास
श्री कृष्ण जन्‍माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाए।


श्रीकृष्ण जन्‍माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं…

श्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम,
लोग करें मीरा को यूं ही बदनाम,
सांवरे की बंसी को बजाए घन श्याम,
कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं।

कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं

हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैया लाल की,
नन्द भयो नाड की जय कैहैया लाल की।
कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं।

कान्हा के मीत भयो, सुदामा लाल की,
कान्हा के भाई भयो बलराम लाल की,
हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैया लाल की,
कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं।

कंश बोले कान्हा से तेरी क्या औकात,
कान्हा मुस्कुराये, और बोले,
आपका अंत मेरे से होगा,

इससे बड़ी भी होगी किसी की औकात,
कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं।

1 2 3Next page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button