Tech

Keyboard Kya Hai Kunjipatal Ki Puri Jankari In Hindi

Keyboard Kya Hai Kunjipatal Ki Puri Jankari In Hindi अगर आप नहीं जानते तो आज मैं आपलोगो को Keyboard Kya Hai Kunjipatal Ki Puri Jankari In Hindi की पूरी जानकारी आपको बताने वाला हु, आपलोग तो कीबोर्ड के बारे में जानते ही होंगे लेकिन आपको ये मालूम है की इसकी कुंजीपटल क्या होती है? आज मैं आपलोगो को ये बताऊंगा की कीबोर्ड क्या है यानि की कुंजीपटल के बारे में बोल रहे है, आपको मैं बता दू, की कीबोर्ड को ही हिंदी में कुंजीपटल कहा जाता है, जिसे आपलोगो ने जरूर ही उपयोग किया होगा।

कीबोर्ड जो की कंप्यूटर का इनपुट डिवाइस है, जिसका कंप्यूटर में एक बहुत बड़ा भूमिका होता है। जिसके बिना कंप्यूटर में बहुत ऐसे चीजे है जो नहीं हो सकती है, जैसे आप देख सकते है, की हमारे पुरे विश्व में सबसे ज्यादा सर्च इंजन गूगल सर्च इंजन है जो की इसमें बिना कीबोर्ड की सहायता से कुछ काम नहीं किया जा सकता है, और गूगल इंजन को हैंडल करने यानि इसकी कोडिंग और इस इंजन में किखि गई आर्टिकल ये सभी कीबोर्ड की ही मदद से किया जा सकता है। आप ऐसे भी कह सकते है की कीबोर्ड के बिना बहुत ऐसा काम है जो नहीं किया जा सकता है।

Keyboard Kya Hai Kunjipatal Ki Puri Jankari In Hindi

Keyboard Kya Hai Kunjipatal Ki Puri Jankari In Hindi
Keyboard Kya Hai Kunjipatal Ki Puri Jankari In Hindi

जैसा की मैंने बताया के बोर्ड एक इनपुट डिवाइस है जो कॉम्पुटर की सहायता के लिए उपयोग में लाया जाता है। और कीबोर्ड में जितने भी नंबर दिए गए है चाहे अल्फाबेट हो या फिर कीबोर्ड के सभी बॉटम हो सभी को एक खास क्रम में लगाया गया है, जिससे की कीबोर्ड को चलाने ज्यादा कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़े। कीबोर्ड को कंप्यूटर से जोड़ने के लिए ps/2 और USB केवल का प्रयोग किया गया है।

अक्शर देखा जाए तो कीबोर्ड को कंप्यूटर को कमांड, न्यूमेरिकल और इसके साथ ही किसे दूसरे तरह के डाटा को टाइप करने के लिए किया जाता है जैसे की आप माउस का उपयोग करते है, ये भी कंप्यूटर का एक इनपुट डिवाइस ही है, जो की एक इसका भी अहम् भूमिका है। कीबोर्ड को जब कंप्यूटर के साथ जोड़ा जाता था तब PS/2 का उपयोग किया जाता था। लेकिन अब मॉडर्न ज़माने में ये वायरलेस हो गया है यानि की अब सिर्फ USB को ही लगाने से बिना वायर की सहायता से ही इसे उपयोग में ला सकते है।

और यही नहीं बल्कि जो हमलोग माउस का उपयोग करते है उसमे भी वायरलेस यानि की बिना वायर के सिर्फ USB लगाने से ही आप माउस को इस्तेमाल में ला सकते है, अब बहुत तरह तरह के कीबोर्ड और माउस निकलने लगे है, लेकिन वायरलेस माउस या कीबोर्ड में आपको बैटरी को चेंज करना होता है जब माउस और कीबोर्ड काम नहीं करता है। कीबोर्ड का बनावट लगभग टाइपराइटर के जैसा ही होता है,

लेकिन टाइपराइटर से ज्यादा कीबोर्ड (कुंजीपटल) में KEYS होता है इन KEYS की गिनतियों को KEYBOARD के फंक्शन के मुताबिक ज्यादा या कम हो सकता है। और एक क्वर्टी लेआउट वाले कीबोर्ड में लगभग 104 कुंजी यानि की KEYS होते है। कीबोर्ड एक तरह का हार्डवेयर डिवाइस है, जिसे उपयोगकर्ता के द्वारा चलाया जाता है।

इन्हे भी पढ़े :-

Income Tax kya hai aur Kyon lagta hai?

Loan ke liye apply Kaise Kare?

TYPE OF KEYBOARD

type of keyboard
type of keyboard

देखा जाए तो कीबोर्ड के बहुत से प्रकार होते है जो की हर जगहों पर मौजूद होते है, और इसके साथ ही सब देश का खुद अपने भाषा का कीबोर्ड को भी लंच कर इसका इस्तेमाल करते है, लेकिन दुनिया भर में सबसे ज्यादा इंग्लिश कीबोर्ड का ही उपयोग किया जाता है। और जितने भी देशो ने अपना अपना कीबोर्ड को लंच किया है वो सब एक ही चीजों के लिए इसे लंच करते है, और हमेसा कीबोर्ड का नया नया मॉडल आता रहता है, लेकिन सभ देश सिर्फ सपने सहूलियत के लिए इसे उपयोग में लाते है, जो की सही भी है।

Keyboard Kya Hai Kunjipatal Ki Puri Jankari In Hindi

KEYBOARD (कुंजीपटल) से मिलते जुलते कुछ अलग लेआउट :-

  1. QWERTZ
  2. QZEARTY
  3. AZERTY

कुंजीपटल के प्रकार अर्थात (TYPE OF KEYBOARD)

पुरे दुनिया में सबसे ज्यादा उपयोग करने वाला कीबोर्ड QZEARTY लेआउट है, जिसे सबसे ज्यादा अच्छा और सक्सेस्फुल मन गया है, और मैं ये भी बताऊंगा, की इसमें भी बहुत तरह के कीबोर्ड होते है, जिनका जिक्र मैं निचे करने वाला हु। और आप ये भी जान ले की इसी तरह के कीबोर्ड में ही 104 KEYS (कुंजी) होते है और इसी कुंजियों के आधार पर इसे 6 भिन्न भिन्न श्रेणियों में बांटा गया है, जो निम्न लिखित है :-

  • Navigation Keys
  • Alphanumeric Keys
  • Function Keys
  • Control Keys
  • Indication Lights
  • Numeric Keys

अब मैं आपको इन सभी के बारे में एक एक करके बताने वला हु।

Keyboard Kya Hai Kunjipatal Ki Puri Jankari In Hindi

Navigation Keys

क्या आपको Navigation keys के बारे में मालूम है अगर नहीं तो अब मैं आपको वाला हु नेविगेशन के किज में एरो किज, पेज डाउन , END, पेज उप, होम, अदि कीस को शामिल किया गया होता है। ये जितने भी कुंजी होते है उसकी गिनती कुंजीपटल के साइज के को देखकर के ही कम या ज्यादा किया जा सकता है, इन सभी keys के इस्तेमालो से इन कीजो का इस्तेमाल माउस के रूप में किया जाता है। ज्यादा तर और ज्यादातर इनके इस्तेमालो से Pages को निचे ऊपर करने के लिए भी करा जाता है, जिसे आसानी से किया जाता है।

Alphanumeric Keys

अब बात करते है अल्फान्यूमेरिक किज की कीबोर्ड में सबसे ज्यादा अल्फान्यूमेरिक किज का ही इस्तेमाल किया जाता है, अल्फान्यूमेरिक किज को टाइपराइटर भी खा जाता है, क्योंकि इसकी जो बनावट है वो टाइपराइटर के सामान ही बनाया गया है और इसी जैसा होता है। और इन किज में अल्फाबेट यानि A से Z तक होता है, और Numeric 0 से 9 तक ही होते है इनमें कुछ और भी साइन (#,$,%,^, !,@, &,*,) जो न्यूमेरिक किज के ऊपर ही बने होते है। इन कीजो में कुछ साइन Space, Tab, Enter, और Backspace इत्यादि किज को भी शामिल किया गया है।

Function Keys

जब बात आती है Function किज के बारे में तो जो सबसे ऊपर वाली किज होती है उसी को Function Keys कहा जाता है जो F1 से F12 तक होता है और इसका इस्तेमाल सॉफ्टवेयर के हिसाब से किया जाता है और किसी महत्वपूर्ण कार्यो के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है, और ये प्रोग्रामो या फिर सॉफ्टवेयर में इसे अलग तरीके से इस्तेमाल किया जाता है, जैसे की कंप्यूटर बंद यानि की SHUTDOWN करने के लिए इसका शार्ट फॉर्म F4 होता है, और अगर बात करे एक्सेल की तो उसमे F4 का काम जो फार्मूला होता है उसको रिपीट करने के लिए किया जाता है।

Control Keys

Control keys के नाम से ही आप अंदाजा लगा सकते है, इसकी कुंजी का नाम Ctrl, Alt, Shift, Prt sc, insert, Window, Prt sc, Scroll and मेनू ये सभी कुंजी शामिल होता है, इसका इस्तेमाल भी आज कल किया जाने लगा है और इस्तेमाल किसी विशेष काम को करने के लिए किया जाता है और इसका इस्तेमाल या अन्य keys (A से Z) के साथ किया जाता है। जैसे की इन सभी का एक अच्छा उपयोग Adobe Photoshop में भी किया जाता है या किसी टेक्स्ट को कॉपी करने के लिए ctrl+c करके किसी टेक्स्ट को कॉपी कर लेते है।

Indication Lights

Keyboard में तीन तरह के Indication lights होते है जिसमे पहला Num Lock, दूसरा Caps Lock तथा तीसरा Scroll लॉक होता है। अगर कीबोर्ड का पहला लाइट जल रहा है तो Num Lock on है, जिसके वजह से नुमेरिक्ल कुंजी का कार्य भी बदल जाता है। और जब दूसरा लाइट जलता है तो Caps Lock on है, और A से Z तक कैपिटल लेटर्स में लिखा जाता है। तथा जब तीसरा लाइट जला हुआ है तो इसमें स्क्रॉलिंग के बारे में बताया जाता है।

Keyboard Kya Hai Kunjipatal Ki Puri Jankari In Hindi

Numeric Keys

Numeric keys का भी इस्तेमाल भी बहुत होता है जैसे 0 से 9 के ही नंबर को और इसके साथ ही Enter और इसके साथ कुछ साइन (+, *. -, /, ) भी शामिल होते है और इनका प्रयोग कंप्यूटर में Number डालने और कंफर्म करने के लिए किया जाता है इसके इलावा 8,6,4, and 2 number का इस्तेमाल कभी कबार Navigation keys के रूप में भी कर सकते है, आप Num Lock को on करके ऐसा कर सकते है।

History of Keyboard

type of keyboard
type of keyboard

अगर बात करे History of Keyboard की तो इसका इतिहास इतना भी पुराना नहीं है, क्योकि कीबोर्ड से पहले टाइपराइटर का खोज हो चूका था जो की थोड़ा बहुत कीबोर्ड के जैसा की लगता है, और जो टाइपराइटर है उसको keyboard के पूर्वज के रूप में माना जाता है। और कीबोर्ड का आविष्कार लगभग सन 1868 को किया गया था, जो की Christopher Latham Sholes ने किया था और वह अमेरिका के ही वाशी थे और वह एक अमरीकी आविष्कारक भी थे।

अंतिम शब्द

आपको Keyboard Kya Hai Kunjipatal Ki Puri Jankari In Hindi कैसा लगा आशा करता हु की आपको (Keyboard Kya Hai Kunjipatal Ki Puri Jankari In Hindi) अच्छा लगा होगा और आपको कुछ सिखने और जानने को मिला होगा और और आप इस आर्टिकल को अच्छे नहीं पढ़े है तो एक बार अच्छे से पढ़ ले क्योकि इससे सम्बंधित भी बहुत सारे प्रश्न भी पूछे जाते है जिसका जवाब देना कठिनाई ब्रा होता है और आप इसे अपने फ्रेंड्स में शेयर भी करे उनको भी इसकी जानकारी होनी चाइए, अगर आपको कुछ भी पूछना हो तो कमेंट में पूछ सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button